Rcm honey Benefits | आरसीएम शहद 🍯 क्या है | और इसके क्या - क्या फायदे

 क्या आपको पता है आरसीएम शहद क्या है और इसके क्या - क्या फायदे |Rcm Honey Benefits शहद का उपयोग सदियों से होता आ रहा है। आयुर्वेद में शहद का उल्लेख है। पहले के समय में इसे एक औषधि के रूप में स्वीकार किया गया है, क्योंकि शहद कई रोगों के प्रभाव को समाप्त करने में सक्षम है। इसलिए आरसीएम को  भी अपने ग्राहकों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए लाया गया है।  

Rcm Honey Benefits

Rcm Honey ~आरसीएम हनी

इसकी पैकेजिंग को छोड़कर यह पूरी प्रक्रिया स्वाभाविक है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मधुमक्खी पालन से शहद तैयार किया जाता है

  1. मधुमक्खियों के लिए शहद बनाने की प्रक्रिया बहुत जटिल होती है। कोई भी मधुमक्खी शहद नहीं बना सकती।
  2. वे एक टीम बना सकते हैं और शहद तैयार कर सकते हैं। सबसे पहले मधुमक्खियां अलग-अलग फूलों के पास जाती हैं और उनका रस निकालती हैं।
  3. फिर वह उस रस को अपने पेट में डालती है जो विशेष रूप से उस रस को रखने के लिए होता है।
  4. उसके बाद मधुमक्खी उस रस को दूसरी मधुमक्खी को चबाने के लिए देती है, दूसरी मधुमक्खी उस रस को करीब 30 मिनट तक चबाती है।
  5. एंजाइमी क्रिया के कारण चबाने से रस शहद का रूप धारण कर लेता है। यह शहद और पानी का मिश्रण है।
  6. अब मधुमक्खी उस शहद को छत में रख देती है और उस छेद को मोम से बंद कर देती है ताकि शहद सुरक्षित रहे।
  7. इस प्रक्रिया से बने शहद का सेवन हम सभी करते हैं। अब यह शहद आरसीएम के कर्मचारियों द्वारा एकत्र किया जाता है।
  8. फिर इसे कारखाने में परिष्कृत किया जाता है और पैक करके आप तक पहुँचाया जाता है।
  9. यह थी आरसीएम स्वच्छा प्रीमियम हनी की पूरी प्रक्रिया। अब हम बात करेंगे इस आरसीएम हनी में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में।

Nutrients present in Rcm Honey~ आरसीएम हनी में मौजूद पोषक तत्व

आरसीएम हनी की बात करें तो इसमें प्राकृतिक तरीके से तैयार किए गए शहद के सभी पोषण गुण हैं। शहद मुख्य रूप से कई प्रकार के सूक्ष्म पोषक तत्वों के साथ पानी और चीनी का मिश्रण है।

इसमें किसी भी पोषक तत्व के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है, आपको इस शहद के हर पोषक तत्व का लाभ मिलेगा। आइए एक नजर डालते हैं आरसीएम स्वच्छा प्रिमियम हनी में डाले गए पोषक तत्वों पर।

फ्रुक्टोज शुगर - यह मुख्य रूप से फलों में पाई जाती है। यह एक प्राकृतिक चीनी है। यह इंसुलिन में भी पाया जाता है जो मधुमेह के रोगियों के लिए रामबाण है।

विटामिन - इसमें विटामिन भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

  1. विटामिन बी1 - 10 एमसीजी से कम
  2. विटामिन बी2 - 20 एमसीजी से कम
  3. विटामिन बी3 - 20 एमसीजी से कम
  4. विटामिन बी5 - 110 एमसीजी से कम
  5. विटामिन बी6 - 320 एमसीजी से कम
  6. विटामिन बी9 - 10 एमसीजी से कम
  7. विटामिन सी - 2500 एमसीजी से कम
  8. विटामिन के-25 एमसीजी

प्रोटीन- शहद में प्रोटीन बनाने के लिए अमीनो एसिड भी पाया जाता है।

एंटीबायोटिक्स और एंटीऑक्सीडेंट - शहद में भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो आपके शरीर में उत्पन्न होने वाले किसी भी रोग को दूर करता है और शरीर से हानिकारक पदार्थों को निकालता है।

खनिज - शहद में जिंक, आयरन, मैग्नीशियम, मैंगनीज, फास्फोरस, पोटेशियम, कैल्शियम आदि खनिज पाए जाते हैं।

तो, ये थे इस आरसीएम हनी में पाए जाने वाले कुछ पोषक तत्व। अब हम बात करेंगे आरसीएम हनी बेनिफिट्स के बारे में।

Rcm Honey (Benefits) ke fayde

शहद के फायदों को देखते हुए इसे आयुर्वेद में अमृत माना गया है। छोटे बच्चों से लेकर बूढ़ों तक सभी के लिए शहद फायदेमंद होता है। नियमित रूप से शहद खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, जिससे कई तरह की बीमारियों से बचाव होता है। आइए जानते हैं शहद के प्रमुख फायदों के बारे में विस्तार से।

वैसे तो शहद खाने के कई फायदे हैं लेकिन आज हम आपको इसके कुछ जरूरी फायदों से अवगत कराएंगे:-

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करें : अगर आप 1 बड़ा चम्मच आरसीएम शहद खाएंगे या गर्म पानी में मिलाकर पिएंगे तो आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहेगा।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है : एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-बैक्टीरियल गुण होने से यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। इसमें विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है

एंटी एजिंग : आरसीएम स्वच्छा प्रीमियम शहद के इस्तेमाल से आपकी त्वचा जवां बनी रहेगी। यह मुंह पर आने वाली झुर्रियों की समस्या को दूर करता है। ताकि आप हमेशा जवान और स्वस्थ दिखें।

वजन घटाने में मदद : शहद शरीर में अतिरिक्त चर्बी को कम करने में भी मदद करता है, यह आपके शरीर की चयापचय शक्ति को बढ़ाता है, जिससे शरीर की चर्बी धीरे-धीरे जलने लगती है और शरीर वसा मुक्त हो जाता है।

बेहतर नींद : शहद में सेरोटोनिन नाम का केमिकल होता है जो किसी के भी व्यवहार को बदल देता है। इसलिए अगर आप अच्छी नींद लेना चाहते हैं तो सोने से पहले दूध में शहद मिलाकर या गुनगुने पानी के साथ पीएं और आपको अच्छी नींद आएगी।

खांसी से राहत : शहद में जीवाणुरोधी गुण होते हैं, यह गले में संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मारता है, जिससे खांसी में आराम मिलता है।

नैचुरल मॉइश्चराइज़र : शहद एक प्राकृतिक मॉइश्चराइज़र है, अगर आप एलोवेरा के साथ शहद मिलाकर अपने चेहरे या पूरे शरीर पर लगाते हैं, तो यह आपकी त्वचा में नमी बनाए रखता है जिससे आपकी त्वचा खिल जाती है।

बालों के लिए : शहद बालों से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करता है जैसे डैंड्रफ आदि। अगर आप बालों की जड़ों में शहद लगाएंगे तो आपको डैंड्रफ से छुटकारा मिल जाएगा।

शरीर में ऊर्जा का निर्वहन : शहद के प्रयोग से आपके शरीर में हमेशा ऊर्जा बनी रहेगी क्योंकि इसमें ग्लूकोज की उचित मात्रा होती है जो सीधे रक्त कोशिकाओं में घुलकर शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है।

कैंसर से बचाव : शहद पेट के कैंसर से बचाता है। शहद में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर में ट्यूमर को बनने से भी रोक सकते हैं।

ये थे कुछ महत्वपूर्ण आरसीएम हनी बेनिफिट्स।  अब हम आपसे बात करेंगे कि इस आरसीएम स्वेछा प्रीमियम हनी का उपयोग कैसे किया जा सकता है; हम आपको नुस्खा देंगे

Rcm honey uses | आरसीएम शहद का उपयोग

शहद के बारे में तो ज्यादातर लोग जानते हैं, लेकिन शहद खाने के तरीके में लोग पिछड़ रहे हैं। आप सीधे शहद का सेवन कर सकते हैं या फिर दूध या पानी में मिलाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं। 

इसके अलावा खाली पेट हल्के गुनगुने पानी के साथ शहद का सेवन वजन कम करने में काफी उपयोगी माना जाता है। कुछ लोग गुनगुने पानी और शहद में नींबू का रस मिलाकर भी पीते हैं।

खांसी से राहत के लिए : अगर आपको खांसी की समस्या है तो आपको शहद का इस्तेमाल करना चाहिए। शहद में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल गुण खांसी को दूर करने में सक्षम होते हैं।

सेवन विधि: खांसी से राहत पाने के लिए आप शहद का सेवन दो तरह से कर सकते हैं।

पहला तरीका रात को सोने से पहले हल्के गुनगुने पानी में एक चम्मच आरसीएम शहद मिलाएं। यह बलगम को भी कम करता है और खांसी से जल्दी राहत देता है। 

दूसरा तरीका : अदरक और शहद से बना पेय भी खांसी से राहत दिलाने में कारगर है।

कटने या जलने की चोट का उपाय : त्वचा कटी या जली हुई हो तब भी शहद का प्रयोग करना बहुत लाभदायक होता है। शहद में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण जले संक्रमित होने से भी बचाए जाते हैं।

विधि : अगर आपकी त्वचा कटी हुई है या कोई हिस्सा जल गया है तो उस हिस्से पर शहद लगाएं। यह जलन को कम करता है।

वजन कम करने में मददगार : अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो आपको आरसीएम स्वेछा प्रीमियम शहद का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट शरीर से हानिकारक कारकों को दूर करता है और शरीर से चर्बी को कम करता है।

विधि : आरसीएम शहद को गुनगुने पानी में मिलाकर खाली पेट सेवन करें।

ये आरसीएम हनी के कुछ उपयोग थे। आइए अब शहद से जुड़ी कुछ खास बातों पर नजर डालते हैं।

RCM Honey Important Facts |आरसीएम हनी महत्वपूर्ण तथ्य

अगर आप शहद का इस्तेमाल करते हैं तो आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए क्योंकि ज्यादातर लोगों को इसकी जानकारी नहीं होती है तो आइए आज इसके बारे में जानकारी जुटाते हैं:

  1. शहद को कभी भी उबलते पानी में नहीं डालना चाहिए। आप इसे गुनगुने पानी या सामान्य तापमान वाले पानी में डाल दें।
  2. लंबे समय तक घी और दही के साथ शहद का सेवन करने से शरीर पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है।
  3. शहद को ज्यादा देर तक गर्म नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद पोषक तत्व एक तापमान पर जहरीले प्रभाव पैदा करने लगते हैं।
  4. बहुत संवेदनशील त्वचा वाले लोगों को भी शहद से बचना चाहिए। उन्हें अपने शरीर पर शहद नहीं लगाना चाहिए।
  5. मधुमेह के रोगियों को शहद का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए।
  6. प्रदूषण पर काबू पाने के लिए।
  7. अधिक शहद के सेवन से ब्लड शुगर का खतरा बढ़ जाता है।
  8. एक साथ अधिक शहद का सेवन करने से फूड पॉइजनिंग हो सकती है।
Conclusion
 क्या आपने  आर्टिकल पढ़ लिया है आरसीएम शहद क्या है और इसके क्या - क्या फायदे |Rcm Honey Benefits और अपने दोस्तों के साथ  शेयर जरूर करना

यह अनोखा लेख जरूर पढ़ें

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.